XtGem Forum catalog
Website Logo
HELPFUL FOR STUDENTS & LEARNERS
SONMA VILLAGE ONLINE INFORMATION SYSTEM

Home Notice Board About us Contact us Mobile View
Select Categories

Education System
Road and Light
People & Population
Active Organization
Religious Position
Agricultural Position
Mani Coaching Centre
Durga Pooja 2013
Sonma in Gallery
Entertainment Zone

All Mp3 Songs
New Mobile Movies
Read New SMS
New Songs & Videos
Bhakti Mp3 Songs
Visit on YouTube
BBC Hindi News
Cricket Live Score
Indian Rail Enquiry
Students Special

SSC Applications
SAIL Official Website
DRDO Notice Board
BRA Bihar University
BCECEB Patna, Bihar
SBTE Patna, Bihar
Jobs For Freshers
Employment News
[More Links...]
Durga Pooja Special

Maa durga pooja is the most popular and important festival in sonma since 2012. this pooja is being regularly since 2012 in sonma village. when firstly this pooja was planned in sonma people feeling that it can not be success but after first day of pooja in 2012 all villagers feels that it was being good in their village.

In the first instance of this pooja in 2012 all villagers of sonma, nearest village majhoura, hanuman nagar, chakba and also some outside villagers was joined in just after two days of durga pooja.

Maa durga pooja samiti sonma socks when in kalash yatra about 1500 peoples were present. After this success, maa durga pooja samiti, sonma decided that this pooja will be every year in sonma village.

In 2012 for this pooja the statue of maa durga carried from Darbhanga which was more costly but causes of timing problem it happened. Pandit ji was also comming after more request with their higher fee. still pooja was running with their formalaties and also last with a ceremony of maa durga pooja statue released in water.

In 2013 it is also being with a large scale than back year. All villagers and nearest villagers are happy for this pooja. Pandal constriction is being processed in a large width and hight. Maa durga's statue is being made in village by nearest statuer.

Maa durga pooja samiti, sonma invite you all to this pooja. it is being starting from 5th oct and being last on 14th oct. All formalities is now in last situation it is ready and waiting for 5th oct.

People who living out of state is comming to sonma regularly. children are happy because they are waiting for dancing in temple of maa durga. they want to getting something from maa durga and so waiting regularly.

You all villagers, nearest villagers, outside villagers and all persons are invited by Maa Durga Pooja Samiti, Sonma.

for current news about this festival pleaese visit out homepage breaking news section.

*********
Memorial Images

Breaking News

कल शाम लगभग 08:30 PM बजे तक वर्षा और तेज हवा के बीच माँ दुर्गा के प्रतिमा विसर्जन का कार्यक्रम शांतिपूर्वक संपन्न हो गया। जुलूस मेँ लगभग 175 लोग शामिल थे।
15/10/2013
06:07 AM

अभी अभी माँ दुर्गापूजा समिति, सोनमा के आपातकालीन बैठक मेँ लिए गये निर्णयानुसार आज शाम 06:15 PM मेँ प्रतिमा विसर्जन का जुलूस निकाला जायेगा जो पूर्व निर्धारित मार्ग से ही गुजरकर सोनमा और चकबा के बीच (घोड़ी देवी मन्दिर के नजदीक) से बहने वाली नदी मेँ विसर्जित की जायेगी। इस जुलूस मेँ किसी प्रकार का कोई साउण्ड सिस्टम का उपयोग नहीँ किया जायेगा तथा दो ट्रैक्टरोँ का उपयोग किया जायेगा। जुलूस मेँ बच्चोँ को जाने से मना किया गया है क्योँकि वर्षा और तुफान के कारण सड़क खराब हो चुकी है। बैठक मेँ पूजा समिति के सदस्योँ के अलावा गाँव के कुछ बुजुर्ग व्यक्ति भी शामिल थे।
14/10/2013
05:30 PM

आज दशमी को सवेरे से ही जोरदार आंधी तुफान के साथ घनघोर वर्षा हो रही है जिसके कारण पूजा विसर्जन मेँ काफी कठिनाईओँ का सामना करना पड़ा हालांकि 12:30 PM तक पूजा विसर्जन हो गया परंतु प्रतिमा विसर्जन के समय का निर्धारित समय बीत जाने के बाद भी नया समय अभी तक निर्धारित नहीँ किया जा सका है। लोग घर से बाहर नहीँ निकल पा रहे है। गाँव मेँ जहाँ तहाँ पेड़ पौधे गिरे पड़े है।
14/10/2013

आज नवमी को सवेरे पूजा के बाद से ही श्रद्धालुओँ का आना जाना लगा हुआ है हालांकि वर्षा के कारण भक्तगणोँ को परेशानियोँ का सामना करना पड़ रहा है परंतु लोगोँ का माताजी के दरबार मेँ आना जाना लगातार बना हुआ है। भक्तगण मुख्य रुप से बताशा का प्रसाद चढ़ाते है कुछ महिलाएँ माताजी को चुनरी से खोँईछ भरती भी दिखाई दे रही है। पूजा गाँव मेँ होने के कारण तथा किसी प्रकार के मनोरंजक कार्यक्रम के नहीँ होने के कारण कोई बड़ा मेला नहीँ लगा हुआ है परंतु मुढ़ी कचड़ी के साथ बच्चोँ के लिए खिलौना जरुर मिल रहा है। आज शाम को हवन किया जायेगा जिसके लिए समिति के सदस्य लकड़ी की व्यवस्था मेँ लगे हुए है।

अभी अभी मिली जानकारी के अनुसार आज महाअष्टमी से पूरे गाँव मेँ लाईट की व्यवस्था की जा रही है ताकि श्रद्धालुओँ को आने जाने मेँ कोई परेशानी न हो।

आज महाअष्टमी को रात के लगभग 01:00 AM बजे निशा पूजा आरंभ किया गया जो लगभग 04:15 AM मेँ संपन्न हुआ। इसके बाद नित्य होने वाली महादेव पूजन किया गया। अभी माताजी के आठवेँ स्वरुप की पूजा की तैयारियाँ की जा रही हैँ।

आज सप्तमी को सवेरे लगभग 08:10 AM मेँ माँ दुर्गा की आँख खुलने के बाद से लगातार भक्तोँ का आना जाना लगा हुआ हैँ।

और अंतत: 04:30 PM बजे यह जुलूस सोनमा और चकबा के बीच स्थित नदी पर पहुँची जहाँ से कन्याएँ कलश भरकर 05:15 PM बजे पंडाल की ओर प्रस्थान की तथा 05:45 PM बजे माताजी के दरबार मेँ पहुँची जहाँ उपवास किए हुए लोगोँ द्वारा कन्याओँ के पैर धोने के लिए बड़ी संख्या मेँ भीड़ लगी हुई थी। इसके बाद कलश को माताजी के दरबार मेँ रखा गया तथा कन्याओँ को भोजन कराया गया। भोजन के बाद कन्याओँ की विदाई की गयी। तत्पश्चात कुछ ही क्षणोँ के बाद माँ की डोली मंगाई गयी और बेल न्योतन के लिए जुलूस निकली जो सर्वप्रथम महारानीस्थान पहुँची जहाँ महारानी पूजन के बाद वह जुलूस पुन: पंडाल के निकट से ही गुजरते हुए पंडाल से लगभग 50 मीटर पश्चिम स्थित मणी कोचिंग सेन्टर के पास बेल न्योतन किया गया जो कार्यक्रम लगभग 12:30 AM मेँ संपन्न हुआ। जुलूस मेँ लगभग 200-250 भक्तगण लाठी डंडो के साथ शामिल हुए। इसके बाद जुलूस माताजी के दरबार मेँ पहुँची। डोली को स्थान देने के बाद माताजी की आरती हुई और प्रसाद वितरण किया गया।
11/10/2013
01:12 AM

आज षष्टी को शोभायात्रा के लिए सवेरे 03:30 से सड़क सफाई का कार्यक्रम किया गया। इसके बाद माताजी के पूजा की गयी तथा पूजा के तुरंत बाद गाने बजाने के साथ शोभायात्रा निकाली गयी है जिसमेँ लगभग 150 कन्याएँ शामिल हुई हैँ। यह यात्रा पंडाल से शुरु होकर मझौरा होते हुए सोनमा मठ तक जायेगी इसके बाद हनुमाननगर की ओर प्रस्थान करेगी और ब्रह्मस्थान पहुँचकर वहाँ से सोनमा महारानी स्थान की ओर मुड़ जायेगी, जहाँ कन्याओँ को शर्बत तथा थोड़े समय के लिए ठहरने की व्यवस्था की गयी हैँ। धूप अधिक होने के कारण सड़क गर्म हो गयी है परंतु इससे बचाव के लिए भक्तगण लगातार सड़क पर पानी पटा रहे है। ताजा समाचार मिलने तक यह जुलूस हनुमानगर ब्रह्मस्थान तक पहुँच चुकी हैँ।

और अंतत: 04:30 PM बजे यह जुलूस सोनमा और चकबा के बीच स्थित नदी पर पहुँची जहाँ से कन्याएँ कलश भरकर 05:15 PM बजे पंडाल की ओर प्रस्थान की तथा 05:45 PM बजे माताजी के दरबार मेँ पहुँची जहाँ उपवास किए हुए लोगोँ द्वारा कन्याओँ के पैर धोने के लिए बड़ी संख्या मेँ भीड़ लगी हुई थी। इसके बाद कलश को माताजी के दरबार मेँ रखा गया तथा कन्याओँ को भोजन कराया गया। भोजन के बाद कन्याओँ की विदाई की गयी। तत्पश्चात कुछ ही क्षणोँ के बाद माँ की डोली मंगाई गयी और बेल न्योतन के लिए जुलूस निकली जो सर्वप्रथम महारानीस्थान पहुँची जहाँ महारानी पूजन के बाद वह जुलूस पुन: पंडाल के निकट से ही गुजरते हुए पंडाल से लगभग 50 मीटर पश्चिम स्थित मणी कोचिंग सेन्टर के पास बेल न्योतन किया गया जो कार्यक्रम लगभग 12:30 AM मेँ संपन्न हुआ। जुलूस मेँ लगभग 200-250 भक्तगण लाठी डंडो के साथ शामिल हुए। इसके बाद जुलूस माताजी के दरबार मेँ पहुँची। डोली को स्थान देने के बाद माताजी की आरती हुई और प्रसाद वितरण किया गया।
Durga Pooja will be started in Sonma, Bathnaha from 05/10/2013 at 09:00 AM. You all are invited in this Pooja.
Maa Durga Pooja samiti, Sonma requests all villagers to co-operate in this Pooja.
Advertisements

Copyright © 2013, Mananjaysoft Pvt. Ltd, Designed and Maintained by Dhananjay kumar
Disclaimer | Best viewed at 1024 x 768 resolution with Internet Explorer 5.0 or Mozila Firefox 3.5 and higher | Terms of use